ApnaCg @मंगेली नपा में कार्यवाहक अध्यक्ष नियुक्त करने पर भाजपा ने जताया आक्रोश कार्यवाहक अध्यक्ष हेमेंद्र के नेमप्लेट पर स्याही फेंक जताया विरोध, सौंपा ज्ञापन

0

मुंगेली – नगर पालिका परिषद मुंगेली में निर्वाचित अध्यक्ष को बर्खास्त कर तथा निर्वाचित उपाध्यक्ष का अधिकार छीनकर गलत तरीके से कार्यवाहक अध्यक्ष बनाकर लोकतंत्र का मजाक बनाया गया है। ये बातें विधायक एवं पूर्व मंत्री पुन्नूलाल मोहले ने नगर पालिका कार्यालय के सामने ज्ञापन सौंपते हुए कही। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कार्यवाहक अध्यक्ष के नेमप्लेट पर स्याही फेकी। कलेक्टर के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा।

ज्ञातव्य है कि भारतीय जनता पार्टी से नगर पालिका मुंगेली के निर्वाचित अध्यक्ष संतुलाल सोनकर को एक आरोप में शासन द्वारा बर्खास्त कर दिया गया है जबकि प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है। जिस पर अभी चार्ज भी नही लगा है और ना ही दोष सिध्द हुआ है। इस पर न्यायालय के पहले ही शासन द्वारा निर्णय कर बर्खास्त कर दिया गया । उक्त निर्णय विधि सम्मत नही है। दूसरी ओर नगर पालिका अध्यक्ष संतुलाल सोनकर को विधि विरुद्ध बर्खास्त करने के बाद शासन के ही आदेश से नगर पालिका मुंगेली में भाजपा के निर्वाचित उपाध्यक्ष मोहन मल्लाह को अध्यक्ष के नही रहने पर कार्यवाहक अध्यक्ष का प्रभार दिया गया था,जिस पर वे कुशलता पूर्वक अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे थे।

ऐसे में लोकतंत्र की हत्या करते हुए विद्ववेश पूर्ण राजनीति के चलते प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने एक कांग्रेस पार्षद जो कि नगर पालिका अध्यक्ष चुनाव में पराजीत हो गये थे उन्हे,भाजपा के चूने हुए अध्यक्ष व उपाध्यक्ष को किनारे कर पीछे के रास्ते कार्यवाहक अध्यक्ष बना दिया गया है जो कि विधि विपरीत है। इस मामले में तत्कालीन मुख्य नगर पालिका अधिकारी, इंजीनियर, लेखापाल आदि पर कार्यवाही नहीं की गई है। एक जनप्रतिनिधि पर तत्काल कार्यवाही कर दिया गया। न्यायालय के निर्णय का भी इंतजार नहीं किया गया। इससे पूर्व में भी लगभग 40 वर्ष पूर्व कांग्रेस सरकार ने भाजपा के नगर पालिका अध्यक्ष स्व निरंजन प्रसाद केशरवानी को दो बार उनके पद से हटा दिया गया था जिस पर वे न्यायालय से विजयी होकर दोनो ही बार बहाल हुए थे।

इस बार भी कांग्रेस सरकार ने वही किया है। इसी कारण कलेक्टर व सीएमओ के माध्यम से शासन से मांग किया गया है कि निर्वाचित नगर पालिका के अध्यक्ष संतुलाल सोनकर को दोष मुक्त अथवा दोष सिध्द होने तक अध्यक्ष के पद पर बहाल किया जावे। इस दौरान अध्यक्ष की अनुपस्थिति में निर्वाचित नगर पालिका उपाध्यक्ष मोहन मल्लाह को कार्यवाहक अध्यक्ष का प्रभार दिया जावे। नगर पालिका में निर्वाचित उपाध्यक्ष के रहते किसी अन्य को प्रभार देने से उपाध्यक्ष का अधिकार व गरिमा तथा पद का महत्व ही समाप्त हो जाएगा। ऐसी स्थिति में भाजपा न्यायालय जाने को बाध्य होगी। इस अवसर पर प्रदेश भाजपा कार्यकारिणी सदस्य व अधिवक्ता गिरीश शुक्ला, जिला भाजपा अध्यक्ष शैलेश पाठक,कोषाध्यक्ष प्रेम आर्य व नगर पालिका उपाध्यक्ष मोहन मल्लाह ने भी संबोधित किया।

इससे पूर्व जिला भाजपा कार्यालय से बड़ी संख्या उपस्थित भाजपा कार्यकर्ता रैली की शक्ल में नारेबाजी करते हुए नगर पालिका कार्यालय तक पहुँचे तथा तहसीलदार मायानंद चंद्रा व मुख्य नगर पालिका अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर पूर्व विधायक विक्रम मोहले,द्वारिका जायसवाल,नगर पालिका उपाध्यक्ष मोहन मल्लाह,पार्षद मोहित बंजारा, राजकुमार वाधवा, गायत्री आंनद देवांगन,अंजलि यादव,मोना नागरे, सोनी आंनद जांगड़े,सुशीला हीरालाल साहू,मोतिम सोनकर,रूपेश भारद्वाज,शीलू साहू,अंजना जायसवाल, निशा सोनी, दीनानाथ केशरवानी,कोटू दादवानी तथा नगर भाजपा अध्यक्ष राणाप्रताप सिंह,ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष शंकर सिंह, सोम वैष्णव, नरेश पटेल,विनय पाण्डेय,श्रीकांत पाण्डेय, मनोहर मोहले,मुकेश रोहरा,रामशरण यादव,राजीव श्रीवास,नितेश भारद्वाज, उमाशंकर साहू,अश्विनी कश्यप,मानस बैस,प्रदीप सिंह,अमितेष आर्य,विनोद यादव,यश गुप्ता, सौरभ बाजपेयी, करण सिंह,अरविंद राजपूत आदि सहित बड़ी संख्या में महिलाएं व पुरूष कार्यकर्ता गण उपस्थित रहे।

कांग्रेस ने किया पलटवार

कांग्रेस ने किया पलटवार – इस पुरे घटना क्रम पर कांग्रेस ने विरोध जताते हुए कहा कि जो भी हुआ है वो पुरे नियम के तहत किया गया है, पुरे घटना क्रम पर अगर नजर फेरी जाए तो भाजपा पाषर्द द्वारा ही नाली घोटाले के मुद्दे को उठा कर अपने ही पाटीर् के अध्यक्ष के खिलाफ मोचार् खोलते हुए जिला मुख्यालय में ज्ञापन सौपा गया था जिसपर जिला कलेक्टर द्वारा तात्कालिन अनुविभागीय अधिकारी नवीन भगत को जांच की कमान सौपी गई थी जिसके जांच में नाली निमार्ण नही होनी की बात सामने आई थी, जिसमें संबंधितो के खिलाफ एफ आई आर के निदेर्श जारी किये गये थे जिसके बाद से तात्कालिन अध्यक्ष फररा हो गये, एवं सुप्रिम कोटर् से कुछ अवधि के लिए राहत मिलने पर तात्कालिन अध्यक्ष वापस आये एवं अवधि समाप्त होने के उपरांत उन्होने न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत हुए जिसके उपरांत उन्हे जेल भेजा गया , वही भाजपा द्वारा किया गया प्रदर्शन घोर निंदनिय है ।

कांग्रेस पाषर्द अरविंद वैष्णव

नपा के पाषर्द अरविंद वैष्णव ने कहा भाजपा द्वारा जो आंदोलन किया गया वह बहुत ही निंदनीय हैं, साथ ही जो नपा के अध्यक्ष के नेमप्लेट पर जो स्याही फेंकी गई वह स्याही अध्यक्ष के नेमप्लेट पर नहीं बल्कि कांग्रेसी नेताओं के चेहरे पर फेंका गया हैं।

कांग्रेस पाषर्द राहुल कुर्रे

पाषर्द राहुल कुरे ने कहा कि शासन द्वारा नगर पालिका अधिनियम की धाराओं के तहत हेमंद्र गोस्वामी को कायर्वाहक नपाध्यक्ष नियुक्त किया गया है, भाजपा द्वारा आज जो आंदोलन किया गया हैं व एक लाल डायरी के कारण किया गया है, उस गुप्त लाल डायरी के कारण भाजपा नेता डरे हुए है, भाजपा का आज का आंदोलन द्वेशपूर्ण हैं

अभिलाष सिंह जिला उपाध्यक्ष कांग्रेस कमेटी मुंगेली

भारतीय जनता पार्टी के लोग बौखला गए हैं। जब शहर में 2 साल से विकास रुका था तब कहा गए थे। अब कोई बना है कि विकास मत रुके तो उन्हें हजम नहीं हो रहा। और नाम पर स्याही फेंक कर एक कहावत याद आ गया खिसयानी बिल्ली खंबा नोचे। ।

राजेश छैदईया जिला अध्यक्ष भारतीय युवा कांग्रेस मुंगेली

बीजेपी मुंगेली के द्वारा विरोध प्रदशर्न किया गया है वह बहुत ही शमर्नाक एवं हास्यपद है यह वही पाटीर् के लोग हैं जिन के पूवर् मंत्री 36 हजार करोड़ के चके घोटाले में फंसे हैं व वतर्मान में उन्हें के पाटीर् के संतुलाल सुनकर जिन्होंने बिना नाली निमार्ण किए पैसा डकारने का काम किया है जिसकी जमानत याचिका को सुप्रीम कोटर् ने भी खारिज कर चोर व घोटालेबाज साबित किया आज इनकी नैतिकता बनती है कि मुंगेली के जनता से माफी मांगे न कि आंदोलन करें!

स्वतंत्र मिश्रा अध्यक्ष शहर कांग्रेस कमेटी

भाजपा द्वारा उठाया गया यह कदम बौखलाहट का प्रतीक है,, कांग्रेस कमेटी इस कृत्य का विरोध करती है पहले उनके ही पार्षदों द्वारा अपने अध्यक्ष के विरुद्ध कार्यवाही की माग की जाती है अब कार्यवाही होने पर विरोध दर्ज कराया जा रहा है,, नियुक्ति पूरे नियमो के अनुरूप की गई है

जीवन श्रीवास्तव शहर उपाध्यक्ष कांग्रेस कमेटी मुंगेली

भाजपा के विधायक पहले अपने गिरेबान में झांक कर देखे जो लोग कल तक अपने अध्यक्ष का विरोध कर रहे थे आज वह लोग कांग्रेस अध्यक्ष का नहीं नगर विकास का विरोध कर रही है। और अध्यक्ष की नियुक्ति नगर पालिका एक्ट के नियमानुसार हुआ है

अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक
Author: अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक

The news related to the news engaged in the Apna Chhattisgarh web portal is related to the news correspondents. The editor does not necessarily agree with these reports. The correspondent himself will be responsible for the news.

Leave a Reply

You may have missed

error: Content is protected !!