ApnaCg@बिलासपुर मंगला कॉलोनी में वर्षों से सफाई नहीं होने के कारण जहां घरो-घर के पास छाड़, घास पुषो से भरा कचरो का अंबार लगा हुआ है।

0

गजेंद्र जायसवाल/बिलासपुर@अपना छत्तीसगढ़ – बिलासपुर मंगला कॉलोनी में वर्षों से सफाई नहीं होने के कारण जहां घरो-घर के पास छाड़, घास पुषो से भरा कचरो का अंबार लगा हुआ है। किंतु नगर निगम कर्मचारियों के द्वारा मुख्य मार्ग में फॉर्मेलिटी के लिए कहीं कहीं कचड़ा सफाई कर निकल जाते हैं। कॉलोनी में कई दिनों तक तो कचरा उठाने वाली आटो भी नहीं पहुंच पाते हैं। मंगलावासियों का मानना है कि मंगला में सफाई शुरू करने पर महीने लग जाएंगे। किंतु इस ओर ना हाउसिंग बोर्ड को चिंता है, और ना ही नगर निगम कोई लेना देना है। बस टैक्स वसूली करने चले आते हैं। इसीलिए कॉलोनीवासी टैक्स देने से साफ इनकार कर रहे हैं।

पूर्व की तरह पंचायती राज के हिसाब से अपना जीवन यापन होने की बात कह रहे हैं। छत्तीसगढ़ कांग्रेस सरकार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ग्रामीण क्षेत्रों को नगरी निकाय में शामिल तो कर लिया। किंतु वही सुविधाएं नहीं मिलने के कारण आमजनों में भारी आक्रोश है। इन्हीं में शामिल बिलासपुर से लगा हुआ मंगला कॉलोनी,अमन विहार,अभिषेक विहार, उषा उपवन सहित कई कालोनियों है। मंगला चौक से कॉलोनी आने के लिए अंधा मोड़ में जाम से लेकर छोटी सड़क व बदबूदार कचरों का अंबार होने के कारण लोगों को मंगला चौक से कालोनी आवागमन में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।लोगों का मानना है कि तत्काल समस्या निवारण करने की बड़ी-बड़ी बाते करने वाला कांग्रेस की सरकार की विफलता बिलासपुर की मंगला कॉलोनी की ओर आसानी से देखा जा सकता है। लोगों को सुविधाएं देने में कोसों दूर नजर आ रहे हैं। जब तक मंगला कॉलोनियों में नगर निगम कि सुविधाएं पूरी तरह नगरीयनिकाय सुविधा मिलने के बाद ही कॉलोनी वासी टैक्स देना शुरू करेंगे।

तब तक कॉलोनीवासी यहाँ से कोई भी टैक्स नहीं देने की बात कह रहे हैं। कॉलोनीवासी मौखिक व लिखित आवेदन देने के बावजूद भी अभी तक कोई सुविधा उपलब्ध नहीं हो पा रही है। मजबूरन ही कॉलोनीवासी अपने घर के आस-पास अंबार घास, मिट्टी का लगा कचरा को मजदूर लगाकर या स्वयं सफाई करने पर मजबूर हो जा रहे हैं । सुखी लकड़ी,कचरा ,घास उगा अव्यवस्थित गार्डन, ट्रांसफार्मर में घास लदा हुआ ,सब स्टेशन के समीप कचरो का ढेर, साथ ही व्यवसायिक कामप्लेस के पास भी घास उगा हुआ है। जिसकी सफाई की ओर नगर निगम को ध्यान नहीं आ रहा है लोगों ने इस ओर कई बार मौखिक सूचना दी गई है किंतु उदासीन प्रशासन अपने ही ध्यान में मग्न हैं।लगता है चुनावी समय में ही कार्य पूरी होगा ऐसा लोगों का मानना है।

मंगला कॉलोनी नगरी निकाय में शामिल होने के बावजूद भी सुविधाओं से कोसों दूर है। ?

?(1) सफाई नहीं होने के कारण घरों घर के किनारे मिट्टी ,घास पूस कचरो का अंबार
? (2) छोटी सड़क,
?(3) सड़क किनारे कचरे का अंबार लगा हुआ है। बरसात के दिनों में बदबू होने के कारण बीमारी फैलने की आशंका फैली हुई है।
?कॉलोनी में केवल 15 मिनट पानी आने के कारण पानी की समस्या बनी हुई है।
?(4) नगरी निकाय सुविधा नहीं मिलने के बावजूद भी टैक्स 2020-21 से वसूली किया जा रहा है जिससे कॉलोनी वासियों में भारी आक्रोश है।

मंगला निवासी जितेंद्र का कहना है कि कालोनी में चारों तरफ घास ,कचरा लदा हुआ है।साफ सफाई नहीं होने के कारण रात में घर से नहीं निकल पाते हैं क्योंकि जहरीले जीव जंतुओं भय बना रहता है। 26 सितंबर से नवरात्रि शुरू होने वाला है। समस्याओं से घिरा मंगला में जीवन यापन करना बड़ा ही कठिन हो गया है। शासन-प्रशासन तो केवल अपना टैक्स वसूली करने में लगे हुए हैं किंतु नगरी निकाय सुविधा दिलाने में इस ओर किसी का ध्यान नहीं लग रहा है। सफाई हो जाएगा करके आश्वासन देकर चले जाते हैं। किंतु जल्द कार्यवाही नहीं हुआ तो हम कॉलोनी वासियों को कठोर कदम उठाएंगे ,जिसके पूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन का होगा।
मंगला कॉलोनी वासी सज्जन सिंह राजपूत का कहना है कि कॉलोनी में कचरे का अंबार लगा हुआ है साथ ही बिजली की आँख मिचौली बना हुआ है। कॉलोनी में केवल दोनों समय 15 मिनट पानी देता है।पानी बिल प्रतिमाह 180 है। जबकि नगरीय निकाय कालोनियों में आधा घंटा- आधा घंटा पानी देकर 180 बिल ले रहा है। 15 मिनट पानी देने के कारण घर में पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिलने के कारण पानी की भी समस्या बना रहता है नगर निगम 2020-21 से लेकर टैक्स वसूली कर रहा है किंतु 3 साल होने के बाद भी आज भी नगरी निकाय सुविधा कॉलोनी में उपलब्ध नहीं है। नगरी निकाय सुविधा नहीं होने के कारणनगर निगम को टैक्स नहीं लेना चाहिए। जिस साल से सुविधाएं मिलने लगेगा उसी साल से नगर निगम टैक्स शुरू करें।
मंगला कॉलोनीवासी चेतन सिंह ठाकुर का कहना है कि कॉलोनी में सफाई नहीं होने के कारण घर-घर में घास फूस कचरो का अंबार लग गया है। इस हाउसिंग बोर्ड,जनप्रतिनिधि को अवगत कराने के बाद भी इस ओर किसी का ध्यान नहीं जा रहा है। आगे चुनाव के इंतजार में ही लगता है कॉलोनी की सफाई होगी। मंगला चौक से कॉलोनी आने में छोटी सड़क बदबूदार रोड होने के कारण आवागमन में काफी तकलीफें उठानी पड़ती है इसलिए देर रात तक कहीं आने जाने में भी बड़ी असुविधा होती है।
बिलासपुर नगर निगम वार्ड नं 13 पार्षद श्याम पटेल का कहना है कि
(1)?मंगला दीनदयाल कालोनी हाउसिंग बोर्ड का बनाया हुआ कॉलोनी है। मेंटेनेंस भी हाउसिंग बोर्ड करता है। विधिवत नगर निगम को हेण्डवर नहीं किया गया है। एक अक्टूबर 2022 से हेण्डवर करने की बात चल रही है। लेकिन कॉलोनी में कचरा गाड़ी भेजना, नाली साफ सफाई भी मेरे द्वारा कराया जाता है।
(2)?मंगला चौक से कॉलोनी जाने के लिए सड़क चौड़ीकरण के लिए पारित हो गया है।बरसात के बाद जल्द ही सड़क चौड़ीकरण का कार्य शुरू होगा।
(3)?मंगला चौक से कॉलोनी जाने की सड़क से पास कचरों का ढेर को जेसीबी मशीन से डिस्पोज किया जा रहा है। और सड़क किनारे फिनिशिंग तार से घेरा किया जा रहा है ताकि यहां कुछ ग्रामीणों के द्वारा कचरा फेंका जा रहा था बंद हो सके।
(4)?नगर निगम के द्वारा कोई भी टैक्स नहीं लिया जा रहा है। कॉलोनीवासी जिन्हें लोन लेना है नगर निगम जाकर टैक्स पटा रहे हैं। पानी बिजली बिल सारी तरह का टैक्स हाउसिंग बोर्ड के द्वारा वसूली किया जा रहा है। किंतु हाउसिंग बोर्ड के द्वारा किसी प्रकार की सुविधाएं कॉलोनी वासियों को नहीं दी जा रही है। जिसे नगर निगम के द्वारा समय-समय पर टंकी सफाई नाली सफाई कराया जा रहा है।
अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक
Author: अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक

The news related to the news engaged in the Apna Chhattisgarh web portal is related to the news correspondents. The editor does not necessarily agree with these reports. The correspondent himself will be responsible for the news.

Leave a Reply

You may have missed

error: Content is protected !!