ApnaCg@सड़कों की स्थिति दुरुस्त करने 4 दिन में कार्ययोजना बनाकर दें- कलेक्टर

0

तीन महीने बाद सरगुज़ा की सड़कें हो जाएंगे गड्ढा मुक्त, 15 अक्टूबर से काम शुरु
निगम की सड़कों की मरम्मत के लिए 3 करोड़ मंजूर
समय-सीमा की बैठक संपन्न
    

अम्बिकापुर@अपना छत्तीसगढ़ – कलेक्टर कुन्दन कुमार ने कहा है कि जिले में सड़कों की स्थिति सुधारने में निर्माण विभाग से सम्बंधित अधिकारी कमर कस लें। सड़कों की स्थिति अगले तीन महीने में कैसे दुरुस्त करनी  है इसकी कार्ययोजना 4 दिन में बनाकर दें। तीन महीने बाद पूरे सड़क गड्ढा मुक्त होना चाहिए। कलेक्टर ने यह निर्देश मंगलवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में सड़कों की मरम्मत की स्थिति की समीक्षा करते हुए निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिए।
    कलेक्टर ने निर्माण विभाग के मैदानी अमलो की उदासीन रवैये पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि सभी अपनी कार्यशैली सुधारें। जिला अधिकारी उप अभियंता व एसडीओ की दैनंदिनी की जांच करें। हर सप्ताह दिए गए कार्य की प्रगति की टीप लिखें। उन्होंने  सबसे ज्यादा सड़कों का संधारण करने वाले एजेंसी पीएमजीएसवाय के अधिकारी से अतिखराब व खराब सड़कों की संख्या की जानकारी व मरम्मत के लिए की जा रही तैयारी की जानकारी ली और निर्देशित किया कि जिन सड़कों के मरम्मत हेतु टेण्डर नहीं लगे हैं उनकी शीघ्र टेंडर लगाएं। सड़कों की गुणवत्ता में कोई समझौता न करें। अधिकारी ने बताया कि अम्बिकापुर-लुण्ड्रा मार्ग सबसे ज्यादा खराब है। उन्होंने बताया कि जिले में करीब 300 किमी की सड़क मरम्मत का काम 15 अक्टूबर से शुरू हो जाएगा। लोक निर्माण विभाग के अधिकारी ने बताया कि करीब 146 किलोमीटर सड़क मरम्मत योग्य है जिसमें से 100 किलोमीटर सीजीआरडीसी अंतर्गत स्वीकृत है। 
    कलेक्टर ने नगर निगम अंतर्गत आने वाले सड़कों की मरम्मत व रखरखाव की भी समीक्षा की और संबंधित विभागों तथा नगर निगम के अधिकारियों को सड़क मरम्म्त के कार्य शीघ्र शुरू करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि शहर में जिन सड़को की स्थिति ज्यादा खराब व ज्यादा भीड़ वाले सड़कों को पहले ठीक कराएं। निगम के अधिकारियों ने बताया कि निगम अंतर्गत सड़कों की मरम्मत के लिए शासन से तीन करोड़ रुपये की मंजूरी मिली है।  बस स्टैंड की सड़क ज्यादा खराब है वही से काम शुरू होगा। कलेक्टर ने अम्बिकापुर से सांड़बार तक की सड़क निर्माण का काम शीघ्र पूरा करने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को दिए। इसके साथ ही अम्बिकापुर शिवपुर एवं अम्बिकापुर-पत्थलगांव एनएच नवनिर्माण कार्य में शेष बचे कार्य को अगले दिसंबर माह तक हर हाल में पूरा करने के भी निर्देश दिये। 

राजस्व संबंधी समस्या निराकरण में ढिलाई बर्दाश्त नहीं- कलेक्टर ने कहा कि राजस्व विभाग से संबंधित समस्याओं के निराकरण में ढिलाई बर्दाश्त नहीं होगी। एसडीएम व तहसीलदार पटवारियों को अपने नियंत्रण में रखें। तीन वर्ष से एक ही स्थान पर पदस्थ पटवारियों का स्थान परिवर्तन करें। भ्रष्ट आचरण वाले पटवारियों पर कड़ाई से करवाई करें। जिन पटवारियों व आरआई के विरुद्ध विभागीय जांच चल रही है उनका प्रकरण अगले दो महीने में सख्त निर्णय लें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक एसडीएम व तहसीलदार के कार्यालय में लंबित अविवादित बटवारा, नामांतरण की जांच हर हफ्ते की जाएगी। उन्होंने कहा कि राजस्व कोर्ट के दिन तय हो अपरिहार्य कारणों से ही कोर्ट स्थगित हो जिसकी पूर्व में सूचना दें ताकि पक्षकारों को परेशानी न हो। तीन या चार पेशी के बाद आदेश जारी करें। उन्होंने कहा कि गिरदावरी में विसंगति होने पर सम्बंधित पटवारी व तहसीलदार को नोटिस जारी करें। शतप्रतिशत शुद्ध गिरदावरी हो। गिरदावरी का डेटा ही धान खरीदी हेतु किसान पंजीयन में प्रविष्टि कराएं। गिरदावरी में किसानों से जो दावा आपत्ति आ रहे है उसका निराकरण तहसीलदार स्वयं करें। 
    ओबीसी पंजीयन में कोई पात्र न छूटे-  कलेक्टर ने कहा कि क्वांटिफ़ायबल डाटा आयोग द्वारा अन्य पिछड़े वर्ग व आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों के सर्वे व पंजीयन के लिए 17 अक्टूबर 2022 तक पोर्टल को पुनः खोला गया है। जिले के सभी पात्र लोगो का पंजीयन कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि लोगों को समझाएं कि इस पंजीयन के आधार पर ही सरकार नीतिगत फैसले लेगी इसलिए पंजीयन में कोई न छूटे। एसडीएम  समाज के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करें। विभाग प्रमुख अपने अधीनस्थ अधिकारी कर्मचारियों का पंजीयन कराना सुनिश्चित करें। ग्रामीण क्षेत्रों में पंजीयन के लिए एसडीएम व जनपद सीईओ तथा शहरी क्षेत्र के लिए नगर निगम आयुक्त जिम्मेदार होंगे। 
    गुणवत्ता सुधारने तय होगा पैरामीटर- कलेक्टर ने कहा कि स्वामी आत्मानन्द शासकीय अंग्रेजी एवं हिंदी माध्यम विद्यालय में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा हेतु विद्यार्थी व शिक्षकों के लिए 15-15 पैरामीटर तय किये जायेंगे जिसके आधार पर आकलन कर स्कूलों का रैंकिंग किया जाएगा। विकासखंड शिक्षा अधिकारी व प्राचार्य मॉनिटरिंग करें। रैंकिंग में बोर्ड परीक्षा के  परिणाम को भी ध्यान रखा जाएगा। 
    क्लब के महिला सदस्य बनेंगे मीटर वाचक- राजीव युवा मितान क्लब के महिला सदस्यों को विद्युत मीटर रीडिंग के कार्य में संलग्न किया जाएगा। कलेक्टर ने पहले चरण में प्रत्येक जनपद में 15-15 महिला सदस्यों को मीटर रीडर बनाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही क्लब के सदस्यों को शासकीय योजनाओं के प्रचार-प्रसार के साथ पर्यटन स्थलों में टूरिस्ट गाइड बनाने के भी निर्देश दिए।
    बैठक में नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिष्ठा ममगई, वनमंडलाधिकारी पंकज कमल, अपर कलेक्टर एएल धु्रव सहित एसडीएम, तहसीलदार, जनपद सीईओ एवं विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।  

अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक
Author: अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक

The news related to the news engaged in the Apna Chhattisgarh web portal is related to the news correspondents. The editor does not necessarily agree with these reports. The correspondent himself will be responsible for the news.

Leave a Reply

You may have missed

error: Content is protected !!