ApnaCg @कालिंदी इंस्पात में क्षमता विस्तार परीयोजना के लिए पर्यावरण स्वीकृति हेतु लोक सुनवाई संपन्न

0

संतोष सिंह ठाकुर /मस्तूरी@अपना छत्तीसगढ़ –क्षेत्रीय कार्यालय छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल द्वारा कालिंदी इस्पात संयंत्र का विस्तार को लेकर लोक सुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसमें कालिंदी प्रबंधन ने स्पष्ट किया कि स्पात विस्तार के साथ साथ आश्रित ग्रामों के जनताओं की जन भावनाओं को ध्यान में रखते हुए और छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल के नियमों को पालन करते हुए ही प्रबंधन इस्पात के विस्तार को अंतिम रूप देगा।
विकास खण्ड के पचपेड़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत स्थित ग्राम पंचायत कोकड़ी के आश्रित ग्राम बेलपान(खपरी)
में कालिंदी इंस्पात विस्तार के लिए खपरी स्थित प्राथमिक शाला मैदान में जन सुनवाई का आयोजन किया गया था ।जिसमे ग्राम मानिकचौरी ,बेलपान, खपरी कोकड़ी, गोबरी,हरदी,रहटाटोर,भटचौरा के ग्रामीणों के साथ साथ क्षेत्रीय कार्यालय छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल के क्षेत्रीय अधिकारीयों के साथ-साथ जिला पंचायत सी ई ओ हरीश एस, एस डी एम पंकज डाहीरे ,तहसीलदार अतुल कुमार वैष्णव सहित अधिकारी कर्मचारी, जनप्रतिनिधि समेत सैकड़ो की संख्या में ग्रामीणों की उपस्थिति में
कालिंदी इंस्पात स्पंज आयरन उत्पादन के क्षमता के विस्तार को लेकर जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया।


जिसमें आसपास की सैकड़ों की संख्या में उपस्थित ग्रामीण जिला स्तर से पहुंचे अधिकारियों एवं कालिंदी इंस्पात के संचालनकर्ताओ के सामने अपनी अपनी समस्याओं की बातें रखी एवं विस्तार हो रहे कालिंदी इंस्पात से होने वाले नफा नुकसान के बारे में आवेदन के माध्यम से अपनी अपनी शिकायत दर्ज करवाई। इस अवसर पर ग्रामीणों के साथ साथ आसपास के जनप्रतिनिधिगण भी भारी संख्या में मौजूद रहे। जब उन लोगो से कालिंदी इंस्पात विस्तार के सम्बंध में जानकारी ली गई तब उन्होंने बताया कि कालिंदी इंस्पात के विस्तार से हमे कोई ऐतराज नही है।बसशर्ते हमारे आसपास के ग्रामीणों का जो 6 सूत्रीय मांग को अगर कंपनी पूरा कर देती है तो हमे कोई परहेज नही है। विस्तार लोक सुनवाई में पहुंचे ग्रामीणों ने बताया कि कंपनी के लिये शासन की जो गाइडलाइन होती है उसी आधार में कंपनी अपनी काम करे एवं आसपास के बेरोजगारो को काम मे लिया जाए।कंपनी से निकलने वाली धुँवा से आसपास के खेतों में जाने से जो नुकसान होता है उसकी मुआवजा प्रदान करे। कालिंदी इंस्पात के करीबी गावो को गोद नामा ले। साथ ही खेतो की सिंचाई के लिए एरिगेशन का निर्माण कर किसानों की समस्या को दूर करने सहित उचित स्वास्थ्य हेतु हॉस्पिटल की भी ग्रामीणों ने मांग की। जिसे कंपनी प्रबन्धन की ओर से विकास ठाकुर ने उक्त सभी मांगो को समय के साथ पूरा करने का आश्वासन दिया गया। इस लोक सुनवाई में ग्रामीणों और जनप्रतिनिधियों के तरफ से 136 आवेदन के रूप में अपनी अपनी शिकायत दर्ज करवाई है जिस पर जिला पंचायत सी ई ओ हरीश एस ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि ग्रामीणों की जो मांगे है उसे शासन के पास पहुचायेंगे साथ ही शिकायत के रूप में जो आवेदन उन्हें मिला है उसमें विचार किया जाएगा एवं शासन के गाइडेंस के हिसाब से काम किया जाएगा। ताकी कंपनी के आसपास सहित भूस्तापित ग्रामीणों को कोई परेशानी न हो।

अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक
Author: अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक

The news related to the news engaged in the Apna Chhattisgarh web portal is related to the news correspondents. The editor does not necessarily agree with these reports. The correspondent himself will be responsible for the news.

Leave a Reply

You may have missed

error: Content is protected !!