ApnaCg @छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के द्वारा बजट पेश किया गया,बजट को लेकर लोगों की मिश्रित प्रतिक्रिया रही किसी ने सराहा,तो किसी ने इसे निराशाजनक बताया।

0

जितेंद्र पाठक @लोरमी – छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के द्वारा बजट पेश किया गया, बजट को लेकर लोगों की मिश्रित प्रतिक्रिया रही किसी ने सराहा, तो किसी ने इसे निराशाजनक बताया। मुंगेली जिला में कन्या महाविद्यालय खुले जाने व पुराने पेंशन बहाली का स्वागत किया गया। वही बजट को लेकर लोगो ने अपनी अपनी प्रतिक्रिया दिए।

धर्मजीत सिंह विधायक लोरमी

बजट में कुछ नही है बजट सिर्फ पढ़ने के लिए बनाया गया है पूर्व में बजट के घोषणा के काम पूरे नही हुए है काम होते नही है युवाओं को रोजगार दिए जाने का वादा किया था लेकिन ऐसा कुछ नही है 25 सौ रुपये प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता जन घोषणा पत्र में वायदा किया गया था बो भी नहीं बजट में एक बार फिर क्षेत्रवासियो को छला गया है बजट निराशाजनक है इस बजट से किसी वर्ग को फायदा नही है।

सागर सिंह बैस अध्यक्ष, जिला कांग्रेस कमेटी मुंगेली

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार द्वारा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा पेश किए गए आज के बजट को छत्तीसगढ़ की उन्नति में एक नया अध्याय है, भूपेश सरकार ने छत्तीसगढ़ के हर वर्ग की उत्तरोत्तर उन्नति को ध्यान में रखकर जो बजट प्रस्तुत किया है वह छत्तीसगढ़ के गठन के बाद एक नया इतिहास रचने जा रहा है।

राकेश छाबड़ा प्रदेश महासचिव जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़

बजट बेहद निराशाजनक रहा इस बजट में कुछ नही है शराबबंदी के कोई उल्लेख है बजट से हर वर्ग को आश थी लेकिन हर बार की भांति इस बार भी बजट से लोगो को निराशा मिला।

श्रीमति लेखनी सोनू चंद्राकर अध्यक्ष जिला पंचायत मुंगेली

मुंगेली जिला में कन्या महाविद्यालय खोले जाने व जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष व सरपंचों का मानदेय बढाये जाने के लिए सर्वप्रथम मुंगेली जिलावासियों के तरफ से मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करती हूं। राज्य के अधिकारियों व कर्मचारियों की पुराने पेंशन, जिला पंचायत विकास निधि में 22 करोड़ का प्रावधान भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना में वार्षिक सहायता बढ़ने से लाभ मिलेगा।

खुशबू आदित्य वैष्णव उपाध्यक्ष जनपद पंचायत लोरमी

छत्तीसगढ़ का बजट बहुत ही सराहनीय बजट है। इस बजट में कोई भी नया कर लागू नहीं किया गया है। पुरानी पेंशन योजना को बहाल किया गया। हिंदी माध्यम के 32 नए स्वामी आत्मानंद स्कूल, 136 धनवंतरी मेडिकल स्टोर खोलने का प्रस्ताव किया गया। बैगा, आदिवासी, ग्रामीण तबके के सभी लोग चाहे महिला हो या पुरुष, अधिकारी,युवा, छात्र सभी वर्गों का विशेष ध्यान रखा गया है । कुल मिलाकर बहुत ही सराहनीय, अनुकरणीय, प्रशंसनीय बजट पेश किया गया है। सबका साथ सबका विकास फलीभूत हो रहा है।

मायारानी सिंह उपाध्यक्ष प्रदेश महिला कांग्रेस

महिलाओं, युवाओं, छात्राओं, सरकारी कर्मचारियों की आकांक्षा को पूरा किया गया साथ में जनप्रतिनिधियों का भी पूरा ख्याल रखा गया जिला पंचायत अध्यक्ष उपाध्यक्ष पंचायत अध्यक्ष उपाध्यक्ष का मानदेय बढ़ाया गया, पुराना पेंसन चालू कराया गया और बहुत अच्छा बजट है ।

श्रीमति शीलू साहू जिला पंचायत सदस्य मुंगेली

राज्य सरकार द्वारा विधानसभा में बजट को खामियां बताई। इस बजट में राज्य सरकार फूड प्रोसेसिंग यूनिट कि बात कही भी नही है। रोजगार में भी संविदा कर्मचारी की नियमित्तीकरण की बात नही कही गई। शराब बंदी की कोई बात नही कि गई।आवास के लिए इस बजट में कोई प्रावधान नही है। महिला समूहों के लिए मशरूम ट्रेनिंग के बाद उनके उद्पाद के बिक्री के लिए मार्केट की कोई बात नहि कही गई। किसानों के लिए कोई प्रावधान नहि बायो फर्टिलाइजर की बात नहि। 32 स्कूल को हिंदी मीडियम करने की बात कही गई है, इंग्लिश मीडियम स्कूल को मैनेजमेंट नही कर पाये व महिलाओं के लिए कोई प्रावधान नहीं किया गया। बजट निराशाजनक है।

रवि शर्मा प्रदेश कार्य समिति सदस्य भाजपा किसान मोर्चा

छत्तीसगढ़ सरकार का 2022 का बजट बेहद निराशाजनक प्रदेश के मुख्यमंत्री ने अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जिन योजनाओं और हितग्राही मूलक योजनाओं की बात की थी उसकी कोई झलक इस बजट में दिखाई नहीं दी छत्तीसगढ़ मॉडल की बात करने वाले मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता को निराश किया है बेरोजगारी के बड़े-बड़े फ्लेक्सों में जो दावा किया गया है उसके विपरीत जितनी शासकीय नौकरी के पद वित्त विभाग से स्वीकृत हैं उनको भरे जाने के लिए कोई व्यवस्था नहीं बेहद निराश करने वाला बजट रहा।

शैलेन्द्र जायसवाल पूर्व एल्डरमेन

जिस घोषणा पत्र के कारण छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आई थी उस घोषणापत्र को अमल करते हुए बजट प्रस्तुत नहीं किया गया है बजट में कहीं भी बेरोजगारी भत्ता किसानों की बोनस का कोई जगह नहीं है|

विश्वास दुबे महामंत्री भाजपा

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा पेश किए गए बजट में युवाओं को रोजगार नहीं मिला और भत्ता देने की बात कही गई थी वह भी नहीं मिला मुख्यमंत्री कहते कुछ और है करते कुछ और बजट सिर्फ दिखावा है कुल मिलाकर बजट अच्छा नहीं है|

शोभाराम कश्यप जिला अध्यक्ष किसान कांग्रेस मुंगेली छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में आम बजट में सभी वर्गो का ध्यान रखा गया हैं किसान, मजदूर, जवान सहित कर्मचारियों का पुराना पेंशन बहाल करना, छत्तीसगढ़ का यह बजट चहुमुखी विकास को परिलक्षित करने वाला हैं सबसे बड़ी बात ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत कर आम जन को आत्मनिर्भर बनाने का बजट में विशेष ख्याल रखा गया हैं।

खडानन कश्यप मण्डल उपाध्यक्ष भाजपा लोरमी

पेंशन योजना में कोई बदलाव नहीं किया गया है जिससे ग्रामीणों के रहन सहन बदलाव आए महंगी छड़ सीमेंट से भी ज्यादा दिक्कत है धरसा विकास निर्माण कार्य हेतु इस बार कोई भी प्रावधान नहीं है बजट बहुत ही निराशाजनक है ग्रामीणों को एक हजार रुपये मासिक पेंशन मिलना चाहिए लेकिन सरकार वादे किए थे लेकिन सरकार बनने के बाद भूल गए।

शरद कुमार डड़सेना शिक्षक व समाजसेवी

छत्तीसगढ़ के वर्तमान बजट में 2004 के बाद नियुक्त कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ देने की घोषणा स्वागतयोग्य है। वहीं राज्य सरकार के द्वारा पीएससी एवं व्यापमं की परीक्षाओं में कोई फीस नहीं लेने की घोषणा ऐतिहासिक है। इससे गरीब वर्ग के मेघावी छात्रों को उच्चपद में जाने हेतु परीक्षा देने का अवसर मिलेगा। यह बजट हर दृष्टिकोण से लाभप्रद है।

रमन शर्मा ब्लॉक अध्यक्ष नवीन शिक्षक संघ लोरमी

लंबे समय से कर्मचारियों की एक बहुत बड़ी मांग थी पुरानी पेंशन बहाल करने की आज विधानसभा में मुख्यमंत्री के द्वारा पुरानी पेंशन बहाल की घोषणा की गई है यह एक ऐतिहासिक निर्णय है आज का दिन कर्मचारियों के लिए ऐतिहासिक है नवीन शिक्षक संगठन की ओर से मुख्यमंत्री को आभार व्यक्त करता हूं।

अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक
Author: अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक

The news related to the news engaged in the Apna Chhattisgarh web portal is related to the news correspondents. The editor does not necessarily agree with these reports. The correspondent himself will be responsible for the news.

Leave a Reply

You may have missed

error: Content is protected !!