ApnaCg@कांग्रेस सरकार राजनीति की भेंट चढ़ा निगम का दशहरा उत्सव आप पुर्व यूथ प्रदेश सह सचिव अनिलेश मिश्रा

0

टुटी 28 साल पुरानी परंपर आप पुर्व यूथ प्रदेश सह सचिव अनिलेश मिश्रा

छत्तीसगढ़/बिलासपुर@अपना छत्तीसगढ़ – आप पुर्व यूथ प्रदेश सह सचिव अनिलेश मिश्रा ने कहा कि राजनीतिक गुटबाजी बनी कारण पुलिस मैदान में आयोजित होने वाले दशहरा उत्सव में राजनीति हावी रही है जब निगम में कांग्रेस की सत्ता थी और राज्य में भाजपा की सरकार थी तब महापौर को दरकिनार कर मंत्री की अध्यक्षता में उत्सव मनाया गया था पिछले 4 सालों से लेकिन शहर सरकार और राज्य दोनों जगह कांग्रेसका विजय नगर विधायक भी कांग्रेस के ही शैलेश पांडे हैं फिर भी विवाद सामने आता ही रहता है पिछले 2 साल तो कोरोनावायरस कार्यों और जनप्रतिनिधियों को सियासी झंझट में फसने से बचा लिया और राहत की सांस ली इस कार्यक्रम का आयोजन होना था आप पुर्व यूथ प्रदेश सह सचिव अनिलेश मिश्रा ने कहा कि इस स्थिति में मेयर के साथ विधायक को भी मुख्य अतिथि बनाया जाना था शहर में चर्चा है कि कांग्रेस की राजनीति के चलते इस तरह का निर्णय लिया गया है कहा जा रहा है कि कांग्रेस का एक गुट नहीं चाहता कि विधायक मुख्य अतिथि बने इस झंझट से बचने के लिए कार्यक्रम ही रद्द कर दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि शहर विधायक होने के बाद भी श्री पांडे को कभी भी भेजें निगम के दशहरा उत्सव में मुख्य अतिथि नहीं बनाया गया आप पुर्व यूथ प्रदेश सह सचिव अनिलेश मिश्रा ने कहा कि यह भी जानकारी दी की इसके अलावा 15 अगस्त और 26 जनवरी के कार्यक्रमों से भी उन्हें दूर रखा गया शहर के कई शासकीय कार्यक्रमों में भी शहर विधायक की उपेक्षा चर्चा का विषय रही है 28 साल पहले राजेश पाण्डेय नगर निगम के मेयर थे और बीआर यादव शहर के विधायक उस समय नगर निगम ने दशहरा उत्सव मनाने की परंपरा प्रारंभ की थी अब बिलासपुर शहर के मेयर रामशरण यादव जी तो इनके कार्यकाल में उत्सव का समापन कर दिया गया है बिलासपुर की पहचान बनी यह परंपरा राजनीति की भेंट चढ़ गई निगम इसके पीछे वित्तीय संकट का हवाला दे रहा है जबकि शहर में चर्चा है कि शहर विधायक शैलेष पाण्डेय जी को मुख्य अतिथि न बनाना पडे इसलिए कार्यक्रम ही रद्द किया गया है। पुलिस मैदान में दशहरा पर्व की शुरुआत 1995-96 में शुरू हुई थी उस दौरान महापौर राजेश पाण्डेय थे तो विधायक बी आर यादव थे। आप पुर्व यूथ प्रदेश सह सचिव अनिलेश मिश्रा ने कहा कि महापौर श्री पाण्डेय जी ने ही विशेष रुचि लेते हुए पुलिस मैदान में इसकी शुरुआत की थी कह तो यह भी जाता है कि उस दौरान मेयर इन कौंसिल की बैठक में इस बात पर भी मुहर लगी थी कि जो भी इस नगर विधायक होगा वहीं निगम के दशहरा उत्सव का मुख्य अतिथि होगा और रावण दहन करेगा भाजपा शासनकाल में नगर विधायक रहे अमर अग्रवाल ने इसी फैसले के तहत ही हर साल रावण दहन किया था। पिछले दो साल से कोरोनावायरस के कारण दशहरा उत्सव का आयोजन नहीं हो रहा था इस साल उत्सव का आयोजन होना था परन्तु शहर विधायक शैलेष पाण्डेय जी को मुख्य अतिथि न बनाना चाहते हैं इस कारण कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है।
आप पुर्व यूथ प्रदेश सह सचिव अनिलेश मिश्रा ने कहा कि नहीं टूटेनी चाहिए परंपरा विजयदशमी उत्सव की बिलासपुर की वर्षो पुरानी परम्परा नहीं टूटनी चाहिए इस बात का ध्यान निगम प्रशासन को रखना चाहिए कि ये लोकहित का बड़ा विषय है

अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक
Author: अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक

The news related to the news engaged in the Apna Chhattisgarh web portal is related to the news correspondents. The editor does not necessarily agree with these reports. The correspondent himself will be responsible for the news.

Leave a Reply

You may have missed

error: Content is protected !!