ApnaCg @देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के एक नए भारत, आत्म निर्भर भारत के निर्माण के सपनो को साकार करने की दिशा में भारतीय रेल अग्रणी भूमिका का निर्वहन कर रही है।

0

बिलासपुर @अपना छत्तीसगढ़ – देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के एक नए भारत, आत्म निर्भर भारत के निर्माण के सपनो को साकार करने की दिशा में आज भारतीय रेल अग्रणी भूमिका का निर्वहन कर रही है। उक्ताशय के विचार भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यसमिति के सदस्य एवं सांसद अरुण साव ने लोकसभा में रेल मंत्रालय के अनुदान मांगो पर चर्चा करते हुए व्यक्त किए। सांसद साव ने कहा कि आज भारतीय रेल राष्ट्र की जीवन रेखा, देश की धड़कन के साथ-साथ देश के विकास की रेखा के रूप में पहचानी जा रही है। आज भारतीय रेल की दशा एवं दिशा बदली है, और वह हर क्षेत्र में नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है। प्रधानमंत्री गतिशक्ति परियोजना के तहत टर्मिनल का निर्माण, वंदे भारत ट्रेनों की योजना, कवच जैसी योजनाओं एवं हाई स्पीड ट्रेनों के परिचालन समय की मांग और जनता की आकांक्षाओं को पूरा करने वाला ऐतिहासिक कदम है। गांधीनगर एवं कमलापति स्टेशन के विश्वस्तरीय निर्माण की चुनैतियों से लेकर, जम्मू कश्मीर एवं पूर्वोत्तर के राज्यों तक रेलवे के विस्तार से "एक भारत-श्रेष्ठ भारत" की कल्पना साकार करने का काम भारतीय रेल कर रही है। सांसद साव ने कोरोना महामारी के दौरान भारतीय रेल के योगदान एवं सेवा का उल्लेख करते हुए कहा कि भारतीय भारतीय रेल का प्रत्येक कर्मचारी एवं अधिकारी अभिनंदन का पात्र है। बिलासपुर लोकसभा एवं बिलासपुर रेलवे जोन का उल्लेख करते हुए श्री साव ने बिलासपुर जोन की आधार शिला रखने वाले, छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माता, पूर्व प्रधानमंत्री, भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी जी का स्मरण करते हुए कहा कि बिलासपुर जोन को भारतीय रेल का ग्रोथ इंजन कहा जाता है। भारतीय रेल का केवल 3.5% रूट कि.मी.होने के बाद भी 16% लदान अकेले बिलासपुर जोन करता है। कोल परिवहन में भी बिलासपुर जोन अग्रणी स्थान पर है। प्रदेश एवं क्षेत्र से संबंधित मांगो को रखते हुए श्री साव ने कहा कि छत्तीसगढ़ शासन एवं रेल मंत्रालय के संयुक्त उपक्रम द्वारा कटघोरा, मुंगेली-कवर्धा, खैरागढ़-डोंगरगढ़, खरसिया-बलौदाबाजार-दुर्ग एवं बरवाडीह-चिरमिरी नई रेल परियोजना बनाई गई है। इन सभी परियोजनाओं को आगे बढ़ाने एवं त्वरित क्रियान्वयन की आवश्यकता है। इसी प्रकार चिरमिरी एवं नागपुर हाल्ट के 17 कि.मी. नई रेल परियोजना के पूरा होने से एक वैकल्पिक रेल मार्ग उपलब्ध होगा। सांसद साव ने सदन का ध्यान आकृष्ट कराया कि मुंगेली, कवर्धा और खैरागढ़ में आजादी के 75 साल भी रेल लाईन का अभाव है। उन्होंने राज्य सरकार से आग्रह किया कि लंबित परियोजनाओं को शीघ्र पूरा कराने में सहयोग प्रदान करे। इसके साथ ही श्री साव ने छत्तीसगढ़ से संबंधित अनेक परियोजनाएं जैसे बिलासपुर में रेलवे फ्लाईओवर, बिलासपुर-झारसुगुड़ा चौथी लाईन, राजनांदगांव-नागपुर तीसरी लाईन, पेंड्रा रोड-अनूपपुर तीसरी लाईन, बोरिडाण्ड-अम्बिकापुर डबलिंग कार्य आदि कामों में भी तेजी लाने का आग्रह किया। उन्होंने बिलासपुर, पेंड्रा रोड को विश्वस्तरीय स्टेशन बनाने, उसलापुर, करगी रोड कोटा एवं बिल्हा स्टेशनों में यात्री सुविधाओं का विस्तार, बिल्हा में एक अंडर ब्रिज एवं एक फुट ओवरब्रिज, नर्मदा एक्सप्रेस एवं बिलासपुर-रीवा पैसेंजर ट्रेनों का पूर्ववत घुटकु, कलमीटार, करगीरोड कोटा, सल्का रोड, बेलगहना, टेंगनमाड़ा, खोंगसरा, भनवारंटक, खोडरी, सारबहरा स्टेशनों में ठहराव दिए जाने, बिल्हा में पूर्ववत सभी ट्रेनों का ठहराव प्रारंभ किए जाने , बिलासपुर में कोच फैक्ट्री की स्थापना, अंडरब्रिजों में बिजली एवं पानी भराव की समस्या सहित क्षेत्र से संबंधित अनेक माँगे सदन में रखी।

अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक
Author: अपना छत्तीसगढ़ / अक्षय लहरे / संपादक

The news related to the news engaged in the Apna Chhattisgarh web portal is related to the news correspondents. The editor does not necessarily agree with these reports. The correspondent himself will be responsible for the news.

Leave a Reply

You may have missed

error: Content is protected !!